Sunday, February 8, 2015

Baat To Zara Si Hai

Dhananjay Parmar
Dhananjay Parmar

स्वयं विचार कीजिये :


©      शब्दकोश में असंख्य शब्द होते हुए भी मौन होना सब से बेहतर है।

©      दुनिया में हजारों रंग होते हुए भी सफेद रंग सब से बेहतर है।

©      खाने के लिए दुनिया भर की चीजें होते हुए भी उपवास शरीर के लिए सबसे बेहतर है।

©      पर्यटन के लिए रमणीक स्थल होते हुए भी पेड़ के नीचे ध्यान लगाना सबसे बेहतर है।

©      देखने के लिए इतना कुछ होते हुए भी बंद आँखों से भीतर देखना सबसे बेहतर है।

©      सलाह देने वाले लोगों के होते हुए भी अपनी आत्मा की आवाज सुनना सबसे बेहतर है।

©      जीवन में हजारों प्रलोभन होते हुए भी सिद्धांतों पर जीना सबसे बेहतर है।