Saturday, December 13, 2014

Dekh Bhai Dekh

Dhananjay Parmar
Dhananjay Parmar
मैने बहोत से ईन्सान देखे हैं जिनके बदन पर लिबास नहीं होता औऱ बहोत से लिबास देखे हैं जिनके अंदर ईन्सान नही होता